News

पश्चिम बंगाल: मिदनापुर रैली में विपक्ष पर जमकर बरसे मोदी

15Views

मिदनापुर:-

पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘किसान कल्याण रैली’ को संबोधित किया। किसानों के संबोधित करते हुए एक तरफ जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कृषि क्षेत्र के लिए केंद्र सरकार के कल्याणकारी फैसलों का जिक्र किया तो दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल की ममता सरकार पर जमकर हमला बोला। मोदी ने रैली स्थल पर लगाए गए होर्डिंग्स का जिक्र करते हुए कहा कि ममता बनर्जी प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए खुद हाथ जोड़े मौजूद हैं।

किसानों के लिए कल्याणकारी कामों का किया जिक्र:

किसानों के मुद्दों पर बात करते हुए PM मोदी ने राज्य सरकार और विपक्ष पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा, ‘किसानों को MSP सही मिले इसके लिए किसान मांग करते रहे, आन्दोलन करते रहे लेकिन दिल्ली में बैठी सरकार ने किसानों की एक न सुनी। भाजपा की सरकार बनने के बाद लागत का डेढ़ गुना MSP देने का ऐलान हमारी सरकार ने कर दिया है। हम किसानों की आय दोगुनी करने के संकल्प के साथ काम कर रहे हैं। किसान हमारे अन्नदाता है और गांव हमारे देश की आत्मा हैं। कोई भी देश और समाज आगे नहीं बढ़ सकता, अगर गांव अविकसित हों और किसान उपेक्षित हों।’

‘सिंडिकेट’ पर करारा प्रहार

पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर बरसते हुए PM मोदी ने कहा, ‘मां-माटी-मानुष की बात करने वालों का पिछले 8 साल में असली चेहरा, उनका सिंडिकेट सामने आ चुका है। दशकों के वामपंथी शासन ने पश्चिम बंगाल को जिस हाल में पहुंचाया, आज बंगाल की हालात उससे भी बदतर होती जा रही है। ये सिंडिकेट है जबरन वसूली का, ये सिंडिकेट है किसानों से उनका लाभ छीनने का, ये सिंडिकेट है अपने विरोधी की हत्या करने वालों का, ये सिंडिकेट है गरीब पर अत्याचार करने का। सिंडिकेट की मर्जी के बिना पश्चिम बंगाल में कुछ भी करना मुश्किल हो गया है, पूजा तक करना मुश्किल हो गया है।’

ममता पर PM मोदी का तंज

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तंज कसते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘मैं ममता दीदी का भी बहुत आभारी हूं, क्योंकि मैंने देखा कि उन्होंने मेरे स्वागत में इतने झंडे लगाए हैं। मैं उनका आभार व्यक्त करता हूं। मैं ममता दीदी का इसलिए भी आभार व्यक्त करता हूं क्योंकि वह स्वयं सत्कार करते हुए हाथ जोड़ने की मुद्रा में प्रधानमंत्री का स्वागत के लिए मौजूद हैं। उन्होंने चारों तरफ अपने होर्डिंग लगाए हैं। किसानों के लिए हमने इतना बड़ा फैसला किया है कि आज तृणमूल को भी इस सभा में हमारा स्वागत करने के लिए झंडे लगाने पड़े और उनको अपनी तस्वीर लगानी पड़ी, ये भाजपा की नहीं हमारे किसानों की विजय है।’
पश्चिम बंगाल पर भाजपा की खास नजर
गौरतलब है कि केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की 29 जून को पुरुलिया जिले में हुई जनसभा के महज 15 दिन बाद ही मिदनापुर में प्रधानमंत्री की यह रैली हुई। इस बारे में जानकारी देते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘मिदनापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली यह बताती है कि लोकसभा चुनावों के लिए बंगाल हमारे सर्वोच्च प्राथमिकता वाले राज्यों में से एक है। हम न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री मोदीजी को सम्मानित करना चाहते हैं।’ गौरतलब है कि भगवा पार्टी ने हाल ही में पश्चिम बंगाल के विभिन्न जिलों में अपनी स्थिति मजबूत की है और राज्य में मुख्य विपक्षी दल के तौर पर उभरी है।

Mehul Rahangdale
the authorMehul Rahangdale
Editor

Leave a Reply